जब IAS अब्दुल अज़ीम ने बुढ़िया को दिलवाई मौके पर पेंशन, मां ने दी दुआएँ

हैदराबाद। नफरत के इस माहौल में भी चंद अफसर ऐसे हैं जो अपने फर्ज और इंसाफ को इंसानियत का सबसे बड़ा हथियार बनाकर चलते हैं। ऐसी ही शख्सियत का नाम है अब्दुल अज़ीम जो तेलंगाना राज्य के भुवनपल्ली जिले के कलेक्टर हैं।

एक दिन जब वह कार्यालय पहुंचे तो उन्होंने देखा कि उनके दफ्तर की सीढ़ियों पर एक बुढ़िया बैठी हुई है जिसके हाथ में कागजों का एक गट्ठर है। उन्होंने अपने अर्दली को भेजकर उस बुढ़िया को बुलवाया। अपने सामने जिला कलेक्टर को देखकर बुढ़िया रोने लगी और उसने बताया कि किस तरह उसकी विधवा पेंशन वर्षों से शुरू नहीं हो पाई है जबकि उसके पास पूरे दस्तावेज हैं।

यह सुनते ही आईएएस ऑफिसर अब्दुल अजीम काफी भावुक हो गए और उन्होंने उसी समय पेंशन के लिए जिम्मेदार अधिकारियों को अपने ऑफिस तलब कर लिया। उन्होंने बुढ़िया को अपनी मां कहते हुए उन्हें आश्वासन दिया कि उनका काम आज ही होगा। आनन-फानन पेंशन अधिकारी जिला कलेक्टर के ऑफिस पहुंचे तब तक आईएएस ऑफिसर अब्दुल अजीम उस महिला के साथ अपने कार्यालय की सीढ़ियों पर ही उनका इंतजार कर रहे थे। कागजात की जांच के बाद इस महिला की पेंशन उसी दिन शुरू की गई और आईएएस ऑफिसर अब्दुल अजीम ने इस महिला से आशीर्वाद लेते हुए अपने अधिकारियों को इस बात की सख्त हिदायत दी कि जिले में कोई भी व्यक्ति न्याय से वंचित नहीं रहना चाहिए और उनके जायज़ काम होने चाहिए।

इस बीच वहीं खड़े एक व्यक्ति ने आईएएस ऑफिसर अब्दुल अजीम और वृद्ध महिला की तस्वीर ले ली जो सोशल मीडिया पर बहुत वायरल हो रही है। इस खबर के सामने आने के बाद हर तरफ उनकी प्रशंसा हो रही है और लोग उन्हें दुआएं दे रहे हैं।

Leave a Reply