Admob Ads Types and Details

Admob Ads Types and Details

सिंगापुर। प्रधानमंत्री ली सून लूंग (Lee Hsien Loong) ने देश की जनता को संबोधन में जो बात कही, वह पूरी दुनिया को हैरानी में डालने वाली है। उन्होंने अपने संबोधन में संवेदनशीलता और जनता के साथ अपने भावनात्मक रिश्ते का जो परिचय दिया है, उससे पूरे देश में उनके प्रति आदर और बढ़ गया है।
उन्होंने कहाकि मैं तीन पहलुओं पर बात करुँगा- मेडिकल, इकोनॉमिकल और साइकोलॉजिकल। मेडिकल पहलू पर हम सिंगापुर में लगातार नए केसेस देख रहे हैं।अधिकांशत: या तो बाहर से यात्रा करके आए हैं या बाहर से आए केसेस से संक्रमित हुए हैं। हर बार हम उन्हें आइसोलेट करने में सक्षम हुए हैं। और उनके संपर्क में रहने वाले नजदीकी लोगों में संक्रमण की जांच की है। अतः हमारी संख्या ज़्यादा नहीं बढ़ी है। लेकिन अपने बेहतरीन प्रयासों के बावजूद हम वायरस को खत्म करने में कामयाब नहीं हुए हैं।
लूंग ने कहाकि हमने COVID-19 को पर्याप्त गंभीरता से लिया है। वास्तव में WHO ने हमारे प्रयासों को सराहा है। और कहा है कि सिंगापुर ने इससे निपटने की एक मिसाल पेश की है। लेकिन हम भी गंभीर स्थिति का सामना कर रहे हैं। हम ज़्यादा गंभीर केसेस की उम्मीद करते हैं। उन्होंने कहा चूंकि COVID-19 हमारे साथ लंबे समय तक रहने वाला है। इसलिए हमें बुनियादी चीजों को अपनी आदतों में शामिल करने पर जोर देना चाहिए। हमें अच्छी तरह व्यक्तिगत हाईजीन का अभ्यास करना चाहिए। नये सामाजिक नार्म्स को ग्रहण करना चाहिए। और बड़े समूहों में इकट्ठा होने को हतोत्साहित करना चाहिए। सामान्य तौर पर एक दूसरे से शारीरिक दूरी बनाकर रखनी चाहिए। यही कारण है कि हमने सामूहिक एक्टिविटी को बंद कर दिया है विशेषकर बुजुर्गों के लिए। और हमें दूसरे क्षेत्रों में भी बहुत कुछ करने की ज़रूरत है।
लूंग ने सिंगापुर की जनता से कहाकि हम आईसीयू, हॉस्पिटल बेड और फैसिलिटीज अतिरिक्त क्षमता को बढ़ाने के लिए काम कर रहे हैं ताकि COVID संख्या बढ़ने पर हम उसका सामना कर सकें। इसके अलावा यदि किसी सिंगापुरवासी को तात्कालिक मेडिकल केयर चाहिए तो चाहे वो COVID-19 हो या दूसरी बीमारी उसका हम पूरा ख़याल रखेंगे।
उन्होंने अपने संबोधन में कहाकि लेकिन मैं इस महत्वपूर्ण बात पर जोर देकर कहना चाहूँगा कि सिंगापुर में स्थितियां पूरी तरह से नियंत्रण में हैं। हम डॉर्सकॉन रेड (संक्रमण की चौथी और सबसे घातक अवस्था) में नहीं जा रहे हैं। न ही हम अपने शहरों को पूरी तरह से बंद करने जा रहे हैं जैसा कि चीन, साउथ कोरिया और इटली ने किया। हम अभी जो करने जा रहे हैं वो आगे की योजनाएं है, इन कुछ कड़े कदमों को लागू करने के अलावा सिंगापुर निवासियों को तैयार करने की ज़रूरत है जब हमें इन्हें वाकई में लागू करने की ज़रूरत हो।

जिसे हम अगले कदम के रूप में देखते हैं और जो हमारी सबसे बड़ी चिंता है वो है हमारी अर्थव्यवस्था पर पड़ने वाला प्रभाव। हमारी अर्थव्यवस्था बुरी तरह से प्रभावित होने वाली है। यही कारण है कि पिछले महीने के बजट में हमने तत्काल प्रभाव से 4 बिलियन डॉलर सपोर्ट और स्टेबिलाइज पैकेज के रूप में व्यवसायों, कामगारों और घरेलू लोगों की मदद के लिए आवंटित किया है।

Leave a Reply